देस के पहली वन स्टॉप सेन्टर म अगुवा छत्तीगसढ़

देस के पहली वन स्टॉप सेन्टर म अगुवा छत्तीगसढ़

12-Sep-2018
सखी, देस के पहला वनस्टाॅप सेन्टर रायपुर मं 1. पीड़ित महिला मनके सहायता खातिर देस के पहला वन स्टाॅप सेंटर रायपुर मं सुरू करे गईस। केंद्रीय महिला अउ बाल विकास मंत्री श्रीमती मेनका गांधी अउ मुख्यमंत्री डाॅ. रमन सिंह वन स्टाॅप सेंटर के षुभारंभ करिन। 2. ये सेन्टर मं घरेलू हिंसा, लैगिक हिंसा, बलात्कार, दहेज उत्पीड़न, तेजाब, डायन/टोहनी के नाम मं प्रताड़ित, कार्यस्थल मं लैगिक उत्पीड़न अवैद्य मानव व्यापार, बाल विवाह, लिंग चयन, भू्रण हत्या अउ सती प्रथा आदि से पीड़ित सबो वर्ग के महिला मनला एके छत के नीचे एकीकृत रूप से सलाह, सहायता, मार्गदर्षन अउ संरक्षण देय जाही। 3. 18 वर्ष ले कम उम्र के पीड़ित बालिका मनला घलव ये सेन्टर मं सहायता मिलही। 4. कोनों भी पीड़ित महिला मनला आने पुनर्वास के व्यवस्था होय तक अधिकतम पांच दिन इहां रहे के सुविधा देय जाही। 5. कोर्ट अउ पुलिस से संबंधित कार्रवाही खातिर वीडियो काॅन्फ्रेसिंग के सुविधा घलव उपलब्ध कराय जाही। 6. वन स्टाॅप सेन्टर के टोल फ्री नम्बर 181 हे। 7. वन स्टाॅप सेन्टर के निर्माण नेषनल बिल्डिंग कंस्ट््रक्षन कार्पोरेषन ह एक महीना के कम बेरा मं प्रीफेब तकनीक ले करे हे।
प्रधानमंत्री आवास योजना म अगुवा छत्तीसगढ़

प्रधानमंत्री आवास योजना म अगुवा छत्तीसगढ़

12-Sep-2018
प्रधान मंत्री आवास योजना प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत दू वष के भीतर देष भर मं 1 करोड़ पक्का मकान बनाए जाही। ये योजना के क्रियान्वयन छत्तीसगढ़ मं करे जावत हे। योजना के उद्देष्य हर परिवार ल स्वयं के आवास उपलब्ध कराना हे। ये योजना के हितग्राही उनमन हो सकहीं जिनकर कहंू भी पक्का मकान नइ हे। ष्0 षहरी क्षेत्र मं ये योजना के लाभ लेय बर आय के सीमा आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग ई.डब्लू.एस. बर वार्षिक आय 3 लाख रूपए अउ निम्न आय वर्ग एल.आई.जी. बर वार्षिक आय 3 से 6 लाख रूपिया होना चाही। 0 ग्रामीण क्षेत्र मं ये योजना के अंतर्गत आवासहीन परिवार ल 1 लाख 20 हजार रूपिया के वित्तीय सहायता मकान निर्माण बर देय जाय के प्रावधान हे। भारत सरकार द्वारा प्रधान मंत्री आवास योजना के अंतर्गत पहला प्रोजेक्ट ये मकान महिला मनके नाम मं आंबटित करे जाही
युवा बजट लागू करे म अगुवा छत्तीसगढ़

युवा बजट लागू करे म अगुवा छत्तीसगढ़

12-Sep-2018
युवा बजट लागू करइया देष के पहला अउ एक मात्र राज्य युवा कल्याण मं ध्यान केंद्रित करत अइसन उद्देष्य ले पहलीे बार अलग अलग योजना मं सुवा मन ले संबंधित कार्यक्रम ल एक पृथक युवा बजट के रूप में षामिल करे गेय हे। जेकर अनुसार प्रदेष के लगभग 90 लाख युवा इन कार्यक्रम मन ल लाभ मिलत हे।
कौसल विकास म अगुवा छत्तीसगढ़

कौसल विकास म अगुवा छत्तीसगढ़

12-Sep-2018
कुशल छत्तीसगढ़ सबल छत्तीसगढ़ 1. छत्तीसगढ़ देस के पहला राज्य हे जिहां अपन युवक मनला उनकर मनपसंद के व्यवसाय मन मं कुषलता खातिर प्रषिक्षण पाय के कानूनी अधिकार देय गेय हे। 2. विधान सभा मं विधेयक लान के छत्तीसगढ़ के युवक मन के कुसलता बर विकास के अधिकार अधिनियम 2013 बनाय गेय हे। ये अधिनियम के तहत प्रदेष के युवा मन के मनपसंद व्यवसाय करे बर तकनीकी प्रसिक्षण पाय के कानूनी अधिकार मिले हे। 3. युवा मनला हुनरमंद बनाय खातिर राज्य मं प्रधानमंत्री अउ मुख्यमंत्री कौसल विकास योजना मनके संचालन करे गेय हे। 4. राज्य गठन के बाद 128 नवां सरकारी आई. टी. आई. खोले गेय हे। इनला मिला के बिते तेरा साल मं प्रदेष मं षासकीय औद्योगिक प्रसिक्षण संस्थान आई. टी. आई. मनके संख्या बाढ़ के 172 हो गइस हे। ष् 5. षासकीय आई. टी. आई मं बिते 13 साल मं एक लाख युवा मनला अलग अलग केउ ठन व्यवसाय करे के प्रसीक्षण देय गेय हे। 6. बिते 4 बछर मं राज्य के जमों 27 जिला मन मं संचालित लाइबलीहुड काॅलेज मन मं लगभग 3. 00. 000 युवा मनला प्रसिक्षण देय जा चुके हे। 7. अब तक प्रसिक्षित होय युवा मनले लगभग 74 हजार युवा मनला अलग अलग केउ ठन व्यवसाय मं रोजगार मिले हे। 8. मुख्य मंत्री के अध्यक्षता मं छत्तीसगढ़ राज्य कौसल विकास प्राधिकरण के गठन करे गेय हे। जिला स्तर मं कलेक्टर के अध्यक्षता मं जमों जिला मं कौसल विकास प्राधिकरण बने हे।
भोजन के अधिकार म अगुवा छत्तीसगढ़

भोजन के अधिकार म अगुवा छत्तीसगढ़

12-Sep-2018
मुख्य मंत्री खाद्य अउ पोषण सुरक्षा योजना पी. डी. एस. छत्तीसगढ़ देस के पहला राजय हे, जेन विधान सभा मं कानून बना के राज्य के 58 लाख ले ज्यादा गरीब परिवार मनला भेजन के अधिकार देय हे। छत्तीसगढ़ खाद्य सुरक्षा अउ पोषण सुरक्षाा कानून के तहत प्राथमिकता वाले परिवार मनला रासन कार्ड मं प्रति सदस्य यूनिट सिर्फ 1 रूपिया किलो मं 7 किलो चाउंर देय के प्रावधान करे गेय हे। अनुसूचित जनजाति बहुल क्षेत्र मनमं इन परिवार मनला आयोडिन युक्त 2 किलो नमक मुफ्त देय जावत हे। सामान्य क्षेत्र मं उनला 1 किलो आयोडिन युक्त नमक मिलत हे। आदिवासी क्षेत्र मं गरीब परिवार ल मात्र 5 रू, किलो मं 2 किलो चना देय जावत हे। अंत्योदय परिवार मनला 1 रू. किलो मं प्रति माह 35 किलो चाॅउर देय जावत हे। योजना के लाभ लेय खातिर संपर्क करे के जघा हे - ग्राम पंचायत/नगरीय