षडरस सब्जी

षडरस सब्जी

02-Sep-2022
  मुख्यमंत्री ने लोइंग निवासी बहादुर सिदार के घर षडरस सब्जी के साथ लिया भोजन का स्वाद पूरे गांव में नुआखाई पर्व का रहा सुखद संयोग मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल प्रदेशव्यापी भेंट मुलाकात अभियान के तहत आज दोपहर रायगढ़ विधानसभा के ग्राम लोइंग पहुंचे। उन्होंने यहाँ भगवान श्री जगन्नाथ स्वामी मंदिर में पूजा-अर्चनाकर प्रदेशवासियों की खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री  बघेल ने मंदिर दर्शन के उपरांत कृषक  बहादुर सिदार के आमंत्रण पर उनके  घर में सादगी के साथ जमीन पर बैठकर भोजन ग्रहण किया। मुख्यमंत्री  बघेल का  सिदार के परिजनों ने घर के मुख्यद्वार पर श्रीफल भेंट कर आत्मीय स्वागत किया। उन्हें भोजन में चावल, दाल सहित षडरस से युक्त 6 विभिन्न प्रकार की सब्जियों के साथ छौका लगा डुबकी भी परोसा गया। इन सब्जियों में लेथा खटाई, मटर पनीर, बड़ी टमाटर, भिंडी, मिक्स वेज और मखाना भाजी की सब्जी भी शामिल थीं। उल्लेखनीय है कि क्षेत्र के कोलता समाज का लेथा खटाई एक खास व्यंजन है इसे समाज के हर विशिष्ट पर्व आदि कार्यक्रमों में जरुर शामिल किया जाता है। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री  उमेश पटेल एवं विधायक  प्रकाश नायक भी उपस्थित थे। 
प्रदेश का 30 वां जिला सारंगढ़-बिलाईगढ़

प्रदेश का 30 वां जिला सारंगढ़-बिलाईगढ़

02-Sep-2022
सितम्बर से अस्तित्व में आयेगा प्रदेश का 30 वां जिला सारंगढ़-बिलाईगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल करेंगे नये जिले का शुभारंभ छत्तीसगढ़ के चार तथा उड़ीसा के एक जिले से लगती है नवगठित सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिले की सीमाएं नवगठित जिले में होगी तीन तहसीलें तथा तीन जनपद पंचायत लोगों तक बढ़ेगी प्रशासनिक पहुंच, विकास कार्यों को मिलेगी गति छत्तीसगढ़ बनने के बाद से ही रायगढ़ जिला में शामिल सारंगढ़ क्षेत्र और बलौदाबाजार के बिलाईगढ़ क्षेत्र के निवासियों की बरसों से मांग थी कि सारंगढ़-बिलाईगढ़ एक नया जिला बने। 3 सितम्बर को श्री भूपेश बघेल सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिला का शुभारम्भ कर वहां के निवासियों के सपने को साकार करेंगे। गौरतलब है कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने 15 अगस्त 2021 को स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नये सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिले के गठन की घोषणा की थी।       सारंगढ़-बिलाईगढ़ के नया जिला बन जाने से शासन-प्रशासन की लोगों तक पहुंच और मजबूत होगी जिससे इन क्षेत्रों में विकास कार्यों को तीव्र गति मिलेगी। जिला मुख्यालय सारंगढ़ रायगढ़ से रायपुर मुख्य मार्ग सारंगढ़ राष्ट्रीय राज्य मार्ग क्रमांक 200 पर स्थित है। यहां रियासत कालीन समय से हवाई पट्टी स्थित है। जिला मुख्यालय सारंगढ़ छत्तीसगढ़ गठन के पूर्व से तहसील मुख्यालय एवं अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मुख्यालय के रूप में है।        ज्ञात हो कि बिलासपुर संभाग के अंतर्गत आने वाले जिला रायगढ़ के उप खण्ड सारंगढ़, तहसील सारंगढ़ एवं बरमकेला तथा रायपुर संभाग के अंतर्गत आने वाले जिला बलौदाबाजार-भाटापारा के उप खण्ड-बिलाईगढ़ तथा तहसील बिलाईगढ़ को समाविष्ट करते हुए नवीन जिला सारंगढ़-बिलाईगढ़ का गठन किया गया है। नवगठित जिलेे की सीमायें उत्तर में रायगढ़ जिला दक्षिण में महासमुंद जिला, पूर्व में उड़ीसा का बरगढ़ जिला और पश्चिम में बलौदा बाजार तथा उत्तर-पश्चिम में जांजगीर-चाम्पा जिले से लगी हुयी है। जिसमें तीन तहसील सारंगढ़, बरमकेला एवं बिलाईगढ़ एवं उप तहसील कोसीर तथा भटगांव शामिल होंगे। नवगठित जिले में तीन जनपद पंचायत सारंगढ़, बरमकेला व बिलाईगढ़ शामिल हो रहे है।         वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार यहां की कुल जनसंख्या 6 लाख 17 हजार 252 है। 759 ग्राम, 349 ग्राम पंचायत, 5 नगरीय निकाय, 601 कोटवार एवं 720 पटेलों की संख्या है। जिसके अंतर्गत 20 राजस्व निरीक्षक मंडल शामिल है जिनमें सारंगढ़, हरदी, सालर, कोसीर, छिंद, गोड़म, उलखर, बरमकेला, गोबरसिंघा, देवगांव, डोंगरीपाली, सरिया, बिलाईगढ़, पवनी, गोविंदवन, जमगहन, भटगांव, गिरसा, बिलासपुर एवं सरसीवा शामिल है। जिसका कुल राजस्व क्षेत्रफल 01 लाख 65 हजार 14 है एवं 2518 राजस्व प्रकरण की संख्या है। वर्तमान में नवीन जिला सारंगढ़-बिलाईगढ़ में 1406 स्कूल, 7 कालेज, 33 बैंक, 3 परियोजना, 141 स्वास्थ्य केन्द्र, 10 थाना एवं 2 चौकी स्थापित है।        नवगठित जिले में रामनामी समुदाय के लोग बड़ी संख्या में निवास करते हैं। ये अपना पूरा जीवन राम के नाम पर समर्पित कर देते है। इनकी विशेषता है कि ये अपने पूरे शरीर पर राम नाम का गोदना करवाते है। महानदी सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिले की मुख्य नदी है। वहीं जिले के सारंगढ़- तहसील में स्थित गोमर्डा अभ्यारण्य सैलानियों को सहज ही अपनी ओर आकर्षित कर लेता है। दशहरा उत्सव के लिए प्रसिद्ध है सारंगढ़ सारंगढ़ रियासत में तत्कालीन राजा जवाहिर सिंह के कार्यकाल में लगभग शताधिक वर्ष पूर्व से सारंगढ़ का दशहरा-उत्सव बस्तर-दशहरा की भांति बहुत प्रसिद्व है। जिसमें रावण दहन के अतिरिक्त मिट्टी के गढ़ में आम नागरिकों के मध्य सार्वजनिक स्थल खुले मैदान में शौर्य का प्रदर्शन किया जाता था। नवयुवक इस शौर्य प्रदर्शन में बड़े उत्साह से बड़ी संख्या में भाग लेते थे। गढ़ को मिट्टी और गोबर के लेप से एकदम चिकना कर दिया जाता था। गढ़ का ऊपरी हिस्से को राजमहल के गढ़ की तरह रूप देकर सुसज्जित किया जाता था। जो मूलतरू मिटटी का होता था। प्रतिभागी कांटानुमा लोहे के पंजा को उस गढऩुमा टीले में गड़ा देता था और गीली मिटटी के कारण फिसलते-सम्हलते चढ़ता था। गढ़ के ऊपर कुछ व्यक्ति पहले से चढ़े रहते थे जो डंडे से किले के ऊपर चढऩे वाले को प्रहार करते थे किन्तु सबसे पहले पहुंचकर जो युवक ऊपर चढ़कर मिटटी के बने गढ़ को तोड़ देता था। उसे राजा साहब नकद राशि और शील्ड देकर पुरस्कृत करते थे। कहा जाता है कि सारंगढ़ रियासत में ऐसे विजयी बहादुर को सेना में भर्ती किया जाता था। इसके पश्चात ही रावण दहन का कार्य सम्पन्न होता था। यह परम्परा आज भी प्रचलित है।
भेंट मुलाकात

भेंट मुलाकात

01-Sep-2022
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायगढ़ जिले के नवापारा में की घोषणाएं नवापारा में स्वास्थ्य केंद्र का प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में उन्नयन सहित स्वास्थ्य केंद्र हेतु भवन, सड़क, सामुदायिक भवन, विद्यालय भवन की घोषणा मुनिचुआं आश्रम परिसर में बाउण्ड्री वाल, मिनी स्टेडियम, बाढ़ प्रभावित गांवों में बाढ़ राहत केंद्रों का होगा निर्माण  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायगढ़ जिले के नवापारा में भेंट-मुलाकात कार्यक्रम की शुरूआत मुनीचुआँ आश्रम में पूजा अर्चना कर प्रदेशवासियों के लिए सुख-समृद्धि की कामना की। मुख्यमंत्री ने आश्रम परिसर में बरगद का पौधा लगाकर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया और ग्रामीणों को अधिक से अधिक पेड़ लगाने के लिए प्रोत्साहित किया। मुख्यमंत्री को ग्रामीणों ने काशी फूल की टोपी पहनाकर सम्मानित किया।  मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों की मांग पर नवापारा में उपस्वास्थ्य केंद्र को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में उन्नयन करने, ग्राम कठानी में उप स्वास्थ्य केंद्र हेतु नवीन भवन निर्माण, ग्राम पंचायत मिडमिडा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हेतु नवीन भवन, एकताल मार्ग से लहंगापाली तक सड़क निर्माण, ग्राम पंचायत पुसौर के बोराडीपा में सर्व समाज हेतु सामुदायिक भवन, ग्राम मल्दा में पहुँचविहीन ग्राम सोडकला तक सड़क, मुनिचुआं आश्रम परिसर में बाउण्ड्री वाल निर्माण, पुसौर के बड़ी हरदी में मिनी स्टेडियम, महानदी के समीप सभी बाढ़ प्रभावित गांवों में बाढ़ राहत केंद्रों का निर्माण, रेंगालपाली में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय भवन निर्माण की घोषणा की। 
कृष्ण कुंज की सुरक्षा में नोडल अधिकारी

कृष्ण कुंज की सुरक्षा में नोडल अधिकारी

31-Aug-2022
 कृष्ण कुंज की सुरक्षा एवं रखरखाव के लिए प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में नोडल अधिकारियों की नियुक्ति पर्यावरण संतुलन बनाए रखने और भरपूर ऑक्सीजन देने वाले वृक्षों का हो रहा रोपण नियमित समीक्षा, सुरक्षा एवं रखरखाव पर दिया जा रहा विशेष ध्यान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जन्माष्टमी के मौके पर पूरे प्रदेश में की थी कृष्ण कुंज योजना की शुरूआत   छत्तीसगढ़ सरकार प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में कृष्ण कुंज का विकास कर रही है। कृष्ण कुंज में वृक्षारोपण से जन-जन को जोड़ना और सांस्कृतिक और धार्मिक महत्व के वृक्षों के रोपण करने का कार्य किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने श्री कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर राजधानी रायपुर के तेलीबांधा स्थित कृष्ण कुंज में स्वयं वृक्षारोपण कर कृष्ण कुंज की महत्वाकांक्षी योजना पूरे प्रदेश में शुरूआत की थी। इसी दिन प्रदेश के नगरीय निकायों में बनाए गए कृष्ण कुंज में जनभागीदारी से वृक्षारोपण किया गया। छत्तीसगढ़ सरकार ने कृष्ण कुंज की सुरक्षा एवं रखरखाव के लिए नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की है। जिनके द्वारा कृष्ण कुंज की नियमित समीक्षा, सुरक्षा एवं रखरखाव पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। प्रदेश के सभी जिलों के नगरीय निकायों में नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं।   गौरतलब है कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पावन अवसर पर राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के सभी नगरीय क्षेत्रों में कृष्ण कुंज योजना की शुरूआत की गई है। तेजी से हो रहे शहरीकरण के कारण वृक्षों की अंधाधुंध कटाई से खत्म हो रहे पेड़ो के अस्तित्व को बचाने और पर्यावरण को संतुलित रखने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की पहल पर प्रदेश के सभी नगरीय निकायों में कृष्ण कुंज बनाए जा रहे हैं। जहां पर पर्यावरण संतुलन बनाए रखने वाले और भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन देने वाले चंदन, रूद्राक्ष, बरगद, पीपल, कदम्ब जैसे वृक्षों का रोपण किया जा रहा है। कृष्ण कुंज में आम, ईमली, बेर, गंगा ईमली, जामुन, शहतुत, तेंदू, चिरौंजी, अनार, कैथा, नीम, पलाश, बेल, आंवला जैसे फलदायी वृक्ष भी लगाएं जा रहे हैं। राज्य सरकार द्वारा पर्यावरण संरक्षण एवं संवर्धन को लेकर लगातार कार्य किया जा रहा है। इसी कड़ी में प्रदेशभर में 2 करोड़ 20 लाख पौधों का रोपण किया जा रहा है, ताकि आने वाली पीढ़ी को एक बेहतर और हरित कल मिल सके साथ ही राज्य हरित संपन्न बन सके।   इस क्रम में रायपुर नगरीय निकाय में श्री विराज मुदलियार, श्री विश्वनाथ मुखर्जी (तेलीबांधा), बीरगांव में श्री संतोेष सामंत राय, आरंग नगर पालिका में श्री लोकनाथ ध्रुव, अभनपुर नगर पंचायत में श्री गिरीश रजक, खरोरा में श्री दीपक तिवारी, कुर्रा में श्री एस.एल, बंजारे, समोदा में श्री सतीश मिश्रा, चंदखुरी में कु. डिम्पी बैस, मंदिर हसौद में श्री शिव चंद्राकर को नोडल अधिकारी बनाया गया है। बलौदाबाजार नगर पालिका में श्री ए.के. व्यास, भाटापारा में श्री हरीश कुमार देवांगन, सिमगा नगर पंचायत में श्री ईश्वरी प्रसाद खुंटे, कसडोल में श्री वी.एस. ठाकुर, भटगांव में श्री आसिफ खान, पलारी में श्री रामाधार साहू, लवन में श्री केशरी लाल जायसवाल, टुण्ड्रा में श्री संतोष कुमार चौहान को नोडल अधिकारी बनाया गया है। धमतरी नगरीय निकाय में  एस.एस. नाविक, भखारा नगर पंचायत में श्री महादेव कन्नौजे, मगरलोड में पंचराम साहू, नगर पंचायत नगरीय में श्री राकेश चौबे, आमदी में  राकेश तिवारी को प्रभार दिया गया है। गरियाबंद नगर पालिका में  मनोज चंद्राकर, राजिम नगर पंचायत में  यू.एस. ठाकुर, छुरा में  सुयशधर दीवान और महासमंुद में  तोष राम सिन्हा, तुमगांव में श्री यू.आर. बसंत, बसना में  सुखराम निराला, सरायपाली में  रामलाल व्यवहार, पिथौरा में 
मुख्यमंत्री को विश्वकर्मा पूजा कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता

मुख्यमंत्री को विश्वकर्मा पूजा कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता

31-Aug-2022
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से उनके निवास कार्यालय में गौ सेवा आयोग के अध्यक्ष महंत राम सुंदर दास जी के नेतृत्व में राजमिस्त्री कल्याण संघ जांजगीर के प्रतिनिधि मंडल ने सौजन्य मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को राजमिस्त्री कल्याण संघ द्वारा आयोजित किए जा रहे विश्वकर्मा पूजन कार्यक्रम में शामिल होने का न्योता दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि आगामी 17 सितंबर को यह कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने राजमिस्त्री कल्याण संघ जांजगीर के प्रतिनिधिमंडल को आमंत्रण के लिए धन्यवाद दिया। इस अवसर पर निर्मल दास वैष्णव, योगेंद्र कुमार कहरा,  काशीराम,  राम सुमिरन बरेठ,  सनत डहरिया,  देव बरेठ सहित राजमिस्त्री कल्याण संघ के अन्य सदस्यगण उपस्थित रहे
मुख्यमंत्री ने दी उड़िया समाज को नवाखाई पर्व की शुभकामनाएं

मुख्यमंत्री ने दी उड़िया समाज को नवाखाई पर्व की शुभकामनाएं

31-Aug-2022
समाज के आग्रह पर की नवाखाई पर्व पर ऐच्छिक अवकाश देने घोषणा नवाखाई पर्व का ऐच्छिक अवकाश देने का आदेश हुआ जारी मुख्यमंत्री ने सर्व उड़िया समाज के आग्रह पर की नवाखाई पर्व पर ऐच्छिक अवकाश देने घोषणा की है। मुख्यमंत्री ने सभी को नवा खाई पर्व की अग्रिम बधाई और शुभकामनाएं दी है। उल्लेखनीय है मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से उनके निवास कार्यालय में सर्व उड़िया समाज के प्रतिनिधिमंडल ने सौजन्य मुलाकात कर मुख्यमंत्री से नवाखाई पर्व पर अवकाश देने का आग्रह किया था। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा आगामी एक सितंबर को नवाखाई पर्व पर राज्य में ऐच्छिक अवकाश देने का आदेश भी जारी कर दिया गया है। प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात के दौरान मुख्यमंत्री को महासमुंद जिले के गढ़फुलझर स्थित रामचंडी माता मंदिर में रामचंडी दिवस के दिन आयोजित मेला कार्यक्रम में शामिल होने का निमंत्रण दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि आगामी अक्टूबर महीने की 8 तारीख को रामचंडी दिवस पर मेला कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। प्रतिवर्ष बड़ी संख्या में आमजन इस आयोजन में हिस्सा लेते हैं। सर्व उड़िया समाज के प्रतिनिधिमंडल में कोलता समाज, ब्राह्मण समाज, अघरिया समाज, संवरा समाज, मरार समाज, तेली समाज, रावत समाज, कुंभकार समाज, बिंझवार समाज, केवट समाज, भूलिया समाज सहित अन्य समाज के प्रतिनिधि शामिल थे।
सी-मार्ट का अवलोकन

सी-मार्ट का अवलोकन

22-Aug-2022
 राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह ने शबरी एम्पोरियम एवं सी-मार्ट का किया अवलोकन बेलमेटल-लौहशिल्प सहित अन्य शिल्प कलाकृतियों को देख सराहा छत्तीसगढ़ राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष अजय सिंह ने सपरिवार आज कोण्डागांव के शबरी एम्पोरियम एवं सी-मार्ट का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होने बेलमेटल, लौह शिल्प, टेराकोटा, काष्ठ शिल्प, बांस शिल्प आदि कलाकृतियों को तन्मयता के साथ देखा और इन जीवंत कलाकृतियों को सराहा। यहां पर उन्होने टेराकोटा एवं बांस शिल्प की विभिन्न कलाकृतियां क्रय की। इस मौके पर राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष श्री अजय सिंह ने सी-मार्ट पहुंचकर  कोण्डागांव की महिला समूहों द्वारा निर्मित कोकोनट कुकीज, अचार, तिखुर शेक, पापड़ आदि उत्पादों का जायजा लिया और स्वयं के उपयोग हेतु कोकोनट आयल, पापड़, दाल खरीद कर नकद भुगतान किया। इस दौरान सीईओ जिला पंचायत श्री प्रेमप्रकाश शर्मा ने बताया कि सी-मार्ट में महिला समूहों द्वारा उड़ान कम्पनी में निर्मित विभिन्न उत्पादों के साथ ही बस्तर एवं दंतेवाड़ा के महिला समूहों द्वारा निर्मित उत्पादों का विक्रय किया जा रहा है। इसके साथ ही स्थानीय जैविक उत्पाद चावल, दाल, रागी आदि सहित हर्बल उत्पाद विक्रय हेतु सी-मार्ट में उपलब्ध है। इस मौके पर एसडीएम  चित्रकांत ठाकुर तथा अन्य अधिकारी मौजूद
राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता

राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता

22-Aug-2022
22वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम में हुआ रंगारंग शुभारंभ विधायक रामपुकार ने  खेल ध्वज फहराकर राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता किया शुभारंभ बेहतर खेल का प्रदर्शन कर अपने माता पिता एवं राष्ट्र को पहचान दिलायें - विधायक रामपुकार सिंह खेल में हार-जीत लगी रहती है, खिलाडियों को खेल भावना के साथ उत्कृष्ट प्रदर्शन करना चाहिए - विधायक श्री विनय भगत शुभांरभ समारोह में  छात्र छात्राओ द्वारा  स्वागत गीत एवं आकर्षक  सांस्कृतिक कार्यक्रम की दी मनमोहक प्रस्तुति राज्य के 5 संभागीय खेल मुख्यालय के खिलाड़ी दिखाएंगे अपना जौहर 22 वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का शुभारंभ आज जशपुर के एस्ट्रोटर्फ हॉकी स्टेडियम में किया गया। शुभारंभ अवसर के मुख्य अतिथि विधायक पत्थलगांव व उपाध्यक्ष जनजातीय सलाहकार परिषद श्री राम पुकार सिंह उपस्थित थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता विधायक जशपुर श्री विनय भगत ने किया। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में जशपुर नगर पालिका अध्यक्ष श्री नरेश चंद्र साय, नगर पालिका उपाध्यक्ष श्री राजेश गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री डी रविशंकर, सीईओ जिला पंचायत श्री जितेंद्र यादव, अपर कलेक्टर श्री आई एल ठाकुर, जिला शिक्षा अधिकारी श्री जे के प्रसाद, एसडीएम श्री बालेश्वर राम, श्री अजय गुप्ता, श्री सूरज चौरसिया, श्री सुरेश जैन, श्री अनिल किस्पोट्टा, श्री रवि शर्मा अन्य जनप्रतिनिधि, समाजसेवी सहित शिक्षा विभाग के अधिकारीगण एवं विभिन्न जिलों से आए दल उपस्थित थे। मुख्य अतिथि श्री रामपुकार सिंह द्वारा माता सरस्वती एवं छत्तीसगढ़ महतारी  के चित्र पर दीप प्रज्जवलित किया। राजगीत की प्रस्तुति के साथ ही  विधायक श्री रामपुकार सिंह ने शालेय क्रीड़ा का ध्वज फहराया। इसी के साथ राज्य के 5 जोन के क्रीड़ा ध्वज फहराये गए। खिलाड़ियों द्वारा उत्साहवर्धक मार्चपास्ट किया गया। श्री रामपुकार सिंह ने प्रदेश के 5 संभाग के खेल मुख्यालय से आए 240 खिलाडियों को खेल भावना से खेल खेलने के लिए सद्भावना की शपथ दिलाई। शुभांरभ समारोह के अवसर पर सरस्वती शिशु मंदिर एवं सेंट जेवियर विद्यालय के छात्र छात्राओ द्वारा स्वागत गीत एवं आकर्षक रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई। साथ ही सेंट जेवियर विद्यालय के बैंड द्वारा भी उत्साहवर्धक बैंड का प्रदर्शन किया। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री रामपुकार सिंह द्वारा खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि वे खेल भावना के साथ खेलकर अपने जिले का नाम रोशन करें। उन्होंने कहा कि राज्य शासन ने जिस विश्वास के साथ जिले को 22वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन सौंपा है, वह जिले के लिए गौरव की बात है। ऐसे आयोजन बार-बार नहीं मिलते। हम सबका दायित्व है कि इस आयोजन को सफल बनाएं।इस हेतु उन्होंने राज्य सरकार एवं जिला प्रशासन को आयोजन के लिए बधाई दी। श्री पुकार सिंह ने कहा कि खिलाड़ियों को हार जीत की चिंता किए बिना खेलना चाहिए। खेल से भाईचारा का रिश्ता मजबूत होता है, सोच का दायरा बढ़ता है। उन्होने कहा कि खिलाड़ियों को खेल खेलने का एक अच्छा अवसर मिलता है। उन्होंने सभी प्रतिभागियों को बेहतर खेल का प्रदर्शन कर अपने माता पिता एवं राष्ट्र को पहचान दिलाने के  लिए अपनी शुभकामनाएं दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जशपुर विधायक श्री भगत ने कहा कि स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मन का विकास होता है।  खेल में हार-जीत लगी रहती है। इसलिए खिलाडियों को खेल भावना के  साथ खेलना चाहिए। अगर किसी खिलाड़ी की हार होती है तो उसको अपनी कमजोरी सुधारकर और अधिक मेहनत करने का प्रयास करना चाहिए। खिलाड़ियों को इसे चुनौती मानकर उत्कृष्ठ प्रदर्शन कर अपने माता-पिता, समाज, राज्य और देश का नाम रोशन करना चाहिए।   श्री भगत ने बताया कि वे खुद हॉकी के खिलाड़ी रहे है। इसलिए जशपुर में उच्च स्तरीय सर्व सुविधायुक्त एस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान निर्माण उनका सपना रहा है। उन्होंने कहा कि जशपुर पुराने समय से ही खेल गढ़ रहा है। जिल से बहुत से खिलाड़ियों ने राष्ट्रीय एवं अन्तराष्ट्रीय स्तर पर उच्च प्रदर्शन के जिले को गौरान्वित किया है। एस्ट्रोटर्फ मैदान के निर्माण होने से जिले के प्रतिभावान खिलाड़ियों को अपना खेल प्रदर्शन दिखाने का मौका मिलेगा। इस अवसर पर एसपी श्री रविशंकर  ने स्वागत भाषण देतेे हुए खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया। उन्होंने कहा कि खेल कूद के क्षेत्र में बच्चे अपने भविष्य बना सकते है। खेल के क्षेत्र में बच्चों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की और कहा कि इस क्षेत्र में बच्चे आगे आए और खेल के क्षेत्र में जिले के साथ ही  राज्य का नाम रोशन करें। सीईओ श्री यादव ने कहा कि विद्यार्थी जीवन मे  पढ़ाई के साथ-साथ खेल कूद का भी काफी महत्व है। खिलाड़ियों को हमेशा  खेल भावना से खेलते हुए अपने  अच्छा प्रदर्शन के लिए मेहनत करना चाहिए। 22वीं राज्य स्तरीय शालेय क्रीडा प्रतियोगिता के शुभारंभ अवसर पर मुख्य अतिथि श्री रामपुकार सिंह व विधायक श्री भगत द्वारा प्रदर्शनी मैच का शुभारंभ किया गया। अतिथियों ने खिलाड़ियों का परिचय लेते हुए अपना सर्वाेच्च प्रदर्शन करने हेतु उत्साहवर्धन किया। इस दौरान अतिथियों ने मैदान में हॉकी स्टिक लेकर गोल पोस्ट पर हाथ भी आजमाए। इस अवसर पर नगर के खेल प्रेमी एवं विशिष्टजन, सम्मानीय नागरिकगण काफी संख्या में उपस्थित
स्कूली बच्चों को बस सुविधा

स्कूली बच्चों को बस सुविधा

22-Aug-2022
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देशों का जिला प्रशासन द्वारा किया जा रहा पालन मनोरा एवं फरसाबहार के स्वामी आत्मानंद विद्यालय के बच्चों को स्कूल आवागमन के लिए उपलब्ध कराई गई बस सुविधा बस सुविधा दिलाने के लिए बच्चों ने मुख्यमंत्री बघेल एवं जिला प्रशासन को दिया धन्यवाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के जशपुर जिले के विधानसभा क्षेत्र में भ्रमण के अंतर्गत आयोजित भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में किए गए घोषणाओं एवं निर्देशों का पालन हेतु जिला प्रशासन द्वारा त्वरित कार्यवाही की जा रही है। मुख्यमंत्री बघेल के समक्ष फरसाबहार के पमशाला एवं मनोरा के आस्ता में हुए जन चौपाल में स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यमिक विद्यालय के छात्र छात्राओं द्वारा विद्यालय आवागमन के लिए परिवहन सुविधा उपलब्ध कराने हेतु निवेदन किया था। जिस पर मुख्यमंत्री श्री बघेल ने बच्चों की मांग को संवेदनशीलता से लेते हुए जिला प्रशासन को परिवहन हेतु बस व्यवस्था करने के लिए निर्देशित किया था। मुख्यमंत्री के निर्देशों के परिपालन में  कलेक्टर श्री रितेश कुमार अग्रवाल के मार्गदर्शन में जिला शिक्षा अधिकारी श्री जे के प्रसाद  द्वारा मनोरा एवं फरसाबहार के स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में अध्ययनरत दूर दराज के क्षेत्रों से आने वाले बच्चों की विद्यालय आवागमन की सुविधा के लिए बस की व्यवस्था की गई है। जिसके अंतर्गत मनोरा में 25 एवं फरसाबहार में 35 विद्यार्थी लाभान्वित हो रहे है।साथ ही बच्चों को 50 प्रतिशत किराए में छूट भी प्रशासन द्वारा दी जा रही है। बस की सुविधा मिल जाने से बच्चों के साथ साथ उनके पालकों को भी राहत मिली है। अब उन्हें अपने बच्चों को स्कूल लाने-ले जाने की समस्या नहीं रह गई है। इससे उनके पैसे एवं समय की बचत हो भी रही है। सभी बच्चों ने बस सुविधा दिलाने के लिए मुख्यमंत्री  बघेल एवं  जिला प्रशासन के प्रति आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद दिया है।
राजीव गांधी की जयंती

राजीव गांधी की जयंती

20-Aug-2022
मुख्यमंत्री निवास पर उपस्थित सभी लोगों को सद्भावना दिवस की शपथ दिलायी मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज यहां अपने निवास कार्यालय में देश के पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न श्री राजीव गांधी की जयंती ‘सद्भावना दिवस‘ के अवसर पर उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगों को सद्भावना दिवस की शपथ दिलाईमुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगों को सद्भावना दिवस की शपथ दिलाई। सभी लोग ने जाति, सम्प्रदाय, क्षेत्र, धर्म अथवा भाषा का भेदभाव किए बिना सभी भारतवासियों की भावनात्मक एकता और सद्भावना के लिए कार्य करने तथा हिंसा का सहारा लिए बिना सभी प्रकार के मतभेद बातचीत और संवैधानिक माध्यमों से सुलझाने की शपथ ली। इस अवसर पर कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, आदिम जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंड़िया, उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल, संसदीय सचिव श्री शिशुपाल सोरी, मुख्यमंत्री के सलाहकार श्री प्रदीप शर्मा, छत्तीसगढ़ राज्य नागरिक आपूर्ति निगम के अध्यक्ष श्री रामगोपाल अग्रवाल, छत्तीसगढ़ राज्य खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन, मुख्य सचिव श्री अमिताभ जैन, अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, कृषि उत्पादन आयुक्त डॉ. कमलप्रीत सिंह, गोधन न्याय योजना के नोडल अधिकारी डॉ. अय्याज फकीर भाई तम्बोली सहित वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव तथा प्रदेश के विभिन्न जिलों से किसान और अधिकारी भी जुड़े।