कूषि भूमि ल उघोगपति मन से बचाये बर नियम बनाये जायें :छाया वर्मा

कूषि भूमि ल उघोगपति मन से बचाये बर नियम बनाये जायें :छाया वर्मा

30-Jul-2019
राज्य सभा सांसद श्रीमती छाया वर्मा ह भूपेस सरकार के नरवा,गरूवा,घुरूवा अउ बारी योजना ला विस्तार ले बताइँन ।राज सभा म कहिन की ये योजना ले ग्रामीण अथ्व्स्था अथव्यस्था म क्रनितकारी बदलाव आही। सांसद छाया वर्मा किसान अउ क्रषि के बरबादी बर अंधाधुध् ओैधेागिकीकरण ला बताईन्। उघेागपति मन क्रिष जमीन ला खरीद के बजंर रखत हे जेकर से किष ा ज के क्षेश्र ह दिन ब दीन कम हो जात हे। काबर के क्रिष जमीन ल उघेागपति जायेम ला देके कोनो नीयम नईये। ये बर नीयम बनाय । वर्मा कहिन की किसान मन के आय दोगूना कईसे होही, पेट्रोल-डीजल के दाम दीन ब दीन बाडत हे कीसानी मशीन के दाम तको डबल होगे । खाद के दाम तको बाड गे अउ समय म मीलय भी नहीं ।अयसे में कीसान के आय दोगुना कईसे होही। किसान अउ गाँव के विकास बर भुपेस सरकार के नरवा,गरूवा,घुरवा अउ बारी योजना ल पुरा देस ल अपनाना चाहि । ये योजना ले सब डहार ले पयादा हे ना वायु पदुषण न जल पदुषण न अउ कोनो प्रकार के समस्या हेँ। गांव के किसान मन आथिक रूप ले मजबुत अउ सम्पन्न होही , साथे साथे गांव वाला मन दुसर सहर अउ दुसर राज म पलायन क नौबत तको नई आही। ये योजना ला दुसर राज म लाभी लागु करना चाहिँ चर्चा ला सुन के केन्द्रीय िक्र्रष राज्मंश्री पुरूषेातम रूपाला ह ये योजना के तारीप करीन अउ विश्वास दिलाईन की अइसे जनकल्याणकारी योजना बर केंन्द्र सरकार के पुरा -पुरा सहयोग रही ।
कलेकटर ह हरवाइस चुनाव :छविन्दर कर्मा

कलेकटर ह हरवाइस चुनाव :छविन्दर कर्मा

24-Dec-2018
कलेकटर ह हरवाइस चुनाव :छविन्दर कर्मा पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष कांग्रेसी नेता छविंद्र कर्मा कहिन की दंतेवाड़ा कलेक्टर सौराभ कुमार पर आरोप लगाइस की कलेक्टर ह भाजपा के एजेंट के रूप म काम करें हे ।चुनाव के समय कलेक्टर सौरभ कुमार के सिकायत निर्वाचन आयोग ला चिट्टी लिख के करें रेहेन , लेकिन कोनो प्रकार के कार्यवाही नई होईस । दंतेवाडा विधानसभा के कटेकल्याण अउ कुआकोंडा ब्लाक ह कांग्रेसी क्षेत्र हे मतलब इन्हा भाजपा के कोई पहचान नई तभो ले इन्हा भाजपा ल बम्पर वोट मिले हे जोन कभू हो नई सके ।।।
पूरा देस म किसान के कर्जा माफ हो : राहुल ग़ांधी

पूरा देस म किसान के कर्जा माफ हो : राहुल ग़ांधी

24-Dec-2018
पूरा देस म किसान के कर्जा माफ हो : राहुल ग़ांधी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ह मध्यप्रदेश ,छत्तीसगढ़ अउ राजस्थान म जीत के बाद , अब पूरा देस म किसान मन के कर्जा माफ करवाय बर केन्द्र के मोदी सरकार म दबाव बनाही । राहुल ह आगु कहिन की देस म अमीर अउ गरीब के बहोत बड़ खाई बन गे हे ,मोदी सरकार उद्योगपति मन के सरकार हे । किसान ,मजदूर अउ छोटे किसान से मोदी ल कोनों मतलब नये । राहुल ह आगु कहिन की जब तक किसान मन कर्जा माफ नई होही तब तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ल चैन से बैटन नई दन ।।।
सादगी ले काम कारज होवय :मुख्यमंत्री बघेल

सादगी ले काम कारज होवय :मुख्यमंत्री बघेल

24-Dec-2018
सादगी ले काम कारज होवय :मुख्यमंत्री बघेल प्रदेस के नवा मुख्यमंत्री बघेल सबो अधिकारी कर्मचारी मन ल सादगी ले काम करे बर केहे हे । मुख्यमंत्री कहीन की मुख्यमंत्री , राज्यपाल अउ अन्य वीआईपी के काफिला बर चौक चौराहा म 15 -20 मिनट पहली ट्रैफिक रोक दिये जाथे । ऐकर से लोगन मन ल भारी दिकत के सामना करना पड़थे । अउ एम्बुलैंस ल भी बिल्कुल न रोके जाये ।अब मुख्यमंत्री के आदेस के बाद लोगन मन अइसना वीआईपी बार ट्रैफिक समस्या बर परेसानी नई उठाये पड़हि ।।।
बघेल सरकार के पहली कैबिनेट मीटिंग म तीन बड़का फैसला

बघेल सरकार के पहली कैबिनेट मीटिंग म तीन बड़का फैसला

24-Dec-2018
बघेल सरकार के पहली कैबिनेट मीटिंग म तीन बड़का फैसला । भूपेश बघेल ह मुख्यमंत्री के सपथ ले के बाद भूपेश बघेल ह अपन दु कैबिनेट मंत्री के संग , अपन सरकार के पहली कैबिनेट लीस अउ कांग्रेश के घोसड़ा पत्र के मुताबिक 16 लाख 65 हजार ले ज्यादा किसान मन के 6100 करोड़ रूपिया के कर्जा माफ करें के निर्णय लीस । येखर संग धान के समर्थन मूल्य 2500 रूपिया प्रति क्विंटल करें गीस अउ घिरम हमला के सहीद मन ल न्याय देवाय खातिर sit के गठन उपर निर्णय ले गीस ।
छत्तीसगढिया भूपेश बघेल मुख्यमंत्री पद के सपथ लीस

छत्तीसगढिया भूपेश बघेल मुख्यमंत्री पद के सपथ लीस

24-Dec-2018
छत्तीसगढिया भूपेश बघेल मुख्यमंत्री पद के सपथ लीस । छत्तीसगढ़ के तिसरैया मुख्यमंत्री के रूप म छत्तीसगढिया भूपेश बघेल मुख्यमंत्री पद के सपथ लीस । राज्यपाल आनन्दी बेन पटेल ह रइपुर के बलबीर जुनेजा इंडोर एस्टेडियाम म भूपेश बघेल ल मुख्यमंत्री पद अउ गोपनीयता के सपथ लीस । बघेल के संग टी यस सिंह देव अउ ताम्रध्वज साहू ल भी मंत्री पद के सपथ लीस । भूपेश बघेल दिग्विजय सिंह सरकार म कैबिनेट मंत्री । अउ जोगी सरकार म तको मंत्री रहीन ।सपथ ग्रहण समारोह म कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांघी ,पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहनसिंह , सरद यादव , नवजोत सिंह सिद्ध ,सचिन पायलट ,राज बबर , जतिन सिंह , नवीन जिंदल , राजीव शुक्ला , आंनद शर्मा , मालिक अर्जुन खड़गे , मोहसिन किदवई , प्रमोद तिवारी ,फारुख अब्दुल , नारायण सामी ,अशोक गहलोत , सचिन पायलट , बाबूलाल मरांडी , छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह तको उपस्थित रहीन ।
छत्तीसगढ़ के तिसरैया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

छत्तीसगढ़ के तिसरैया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

24-Dec-2018
छत्तीसगढ़ के तिसरैया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ के तीसरा मुख्यमंत्री होंही ।कांग्रेस के विधायक दल के बैठक म भूपेश बघेल ल अपन नेता चुन लें गीस ।5 दिन के माथपची के बाद आखिर म विधायक दल के नेता ह अपन नेता चुन लें गीस भूपेश बघेल ला । भूपेश बघेल के चयन के बड़े कारण हे कि कांग्रेस ला एक जुट करें हे ।हर मामला म कांग्रेस के पक्ष म माहौल बनाए हे । कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के टारगेट ल पूरा करिस पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ला पार्टी ले बाहिर करिस ।भाजपा के खिलाफ हमेसा आक्रमक रूप ले हमला करिस । तेकरे सेती मुख्यमंत्री पद के हकदार भूपेश बघेल होइस ।
दिल्ली जाय से पहली भूपेश के सब्द

दिल्ली जाय से पहली भूपेश के सब्द

24-Dec-2018
दिल्ली जाय से पहली भूपेश के सब्द " जैसे में हास्त दिल्ली जात हो वैसने ही हँसत आहूं । आज बहुत बड़े दिन हे जेन फैसला होही अच्छा होही । आलाकमान ह मोला बहुमत लाय के जिम्मा सौपे रिहीस, आगु जोन जिम्मा मिलही, ओला पुरा करहु ।"
संघर्षशील भूपेश होवय मुख्यमंत्री-सोहन पोटाई

संघर्षशील भूपेश होवय मुख्यमंत्री-सोहन पोटाई

14-Dec-2018
पूर्व सांसद अउ गोंडवाना गोंड महासभा के संरक्षक ,प्रदेश महामंत्री सोहन पोटाई है एक प्रेस वार्ता म आदिवासी समाज के मांग रखिस ।समाज के मांग हे कि परदेश के उपमुख्यमंत्री आदिवासी समाज ले होना चाही ।अउ कम से कम 5 आदिवासी मंत्री ,आदिवासी सलाहकार परिसद के अध्यक्ष तको आदिवासी होना चाही ,निगम ,मंडल म ज्यादा से ज्यादा प्रतिनिधि मिलय,5 वी अनुसूची के पालनअउ पेसा कानून लागू करे के मांग रखिस । मुख्यमंत्री पद के हक़दार भूपेश बधेल हे किहिन । पोटाई कहींन की भूपेश ह पार्टी बर बहुत संघर्ष करें हे , पार्टी ल जान पुकने वाला भूपेश ही हरे । अपन लगन अउ मेनहत ले पार्टी ल ये ऊंचाई म पहुचाये हे अउ ओखर खिलाफ बहुत सडयंत्र भी करें गिस , इन्हा तक कि उनकर माता पिता ,परिवार तको ऊपर सडयंत्र करें गिस । तभो ले भूपेश कभू विचलित नई होइस । अउ पूरा ईमानदारी ले पार्टी बर काम करिस, तेकरे परिणाम आज पार्टी अतका सीट जीत सके हे ।।
मुख्यमंत्री पद के हक़दार बघेल

मुख्यमंत्री पद के हक़दार बघेल

13-Dec-2018
अगुवा भूपेश बघेल छत्तीसग़ढ म कांग्रेश के ऐतिहासिक जीत के बाद मुख्यमंत्री कोन बनही तेकर माथा पच्ची चलत हे । मगर मुख्यमंत्री के दउड़ म भूपेश बघेल अगुवा हे । काबर की 2014 म परदेस कांगेस के अध्यक्ष बनाये गिस तब कांगेस के हालत बहुत खराब रिहिस हे । भूपेश ह कांगेस ल चार्ज करिस , एक नवा जान फुकीस , सब्बो कांगेसी मन मे आत्मविस्वास जगाइए , कांगेसी मन ल आंदोलन करना सिखाइस । प्रदेस अध्यक्ष कमान सम्हाले के बाद सड़क म उतर के बहुत सारे मुददा म आंदोलन करीन ।पहली फर्जी रासन कार्ड ,किसान के धान खरीदी के मुददा ,अउ बोनस के मुददा म आन्दोलन करीन अउ सफल भी होइन ।ऐकर साथे साथे नसबंदी कांड ,आंख फोड़वा कांड, भूमि अधिग्रहण मामला म पदयात्रा करीन । अउ हर आन्दोलन ल सफल बनाइस। नगरीय निकाय अउ पंचायत चुनाव म जीत होइस , इही मेर ले कांग्रेश संघटन मजबूत होइस । बड़े उपलधि अजित जोगी ला पार्टी ले बाहर निकले के माद्दा बधेल करा रहिस ।बधेल ह रमन सरकार , आरएसएस के खिलाफ खुल्ला लड़ाई लडिस । इन्ह तक कि बधेल के माँ ,पत्नी के खिलाफ ईओडब्ल्यू म मामला दर्ज होइस , फर्जी सेक्स सीडी कांड म गिरफ्तार होइस । मुख्यमंत्री के पद के हकदार अउ लायक भूपेश बघेल हे । किसान पुत्र , आक्रामक सैली, बेबाक बयान , रमन सरकार ले लड़ने वाला , संघर्ष करने वाला , केस झेलने वाला, जेल जाने वाला , संघटन ल मजबूत बनाने वाला ।सब छेल सहिस । बाकी मन ट्रांफ़र,नियुक्ति , ठेका इही म बिजी रहीन है।