सुश्री अनुसुईया उइके राजपाल के सपथ लीन

सुश्री अनुसुईया उइके राजपाल के सपथ लीन

30-Jul-2019
छत्तीसगढ़ के नवा राजपाल सुश्री अनुसुईया उइके राजभवन म छत्तीसगढ़ के राजपाल पद के सपथ लीन ।उच्च न्यायालय बिलासपुर के मुख्य न्यायाधीस न्यायमूर्ति श्री पी.आर.रामचंद्र मेनन ह हिंदी म ईस्वर के नाम ले सपथ लीन । प्रदेस के मुख्यमंत्री भुपेस बघेल सुश्री उइके ला गुलदस्ता भेंट करिन अउ बधाई दिन ।ये मौका म विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ,गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू संग पूरा मंत्री मंडल , विधायक ,सांसद ,अधिकारी ,गड़मान्य आदमी मन उपस्थित रहीन ।
बैस बनिस त्रिपुरा के राज्यपाल

बैस बनिस त्रिपुरा के राज्यपाल

29-Jul-2019
बैस बनिस त्रिपुरा के राज्यपाल रइपुर के सात बार के सांसद रही चुके रमेश बैस ल त्रिपुरा के राजपाल बनाये गिस । रमेश बैस अपन राजनीति सुरुवात नगर पारसद ले करिन । बैस रइपुर संसदीय सीट ले 7 बार चुनाव जीते हावय अव केंद्रीय मंत्री तको रिहिस हे । बैस त्रिपुरा के सांसद बने के बाद कहिन की जो जवाबदारी मीले हे । ओला पुरा लगन से निभाहु ।अउ त्रिपुरा के विकास म पुरा पुरा सहयोग करिहो । प्रदेस म सान्ति अउ भाईचारा बड़हाय बर पूरा प्रयास करिहो ।
धान के समर्थन मुूल्य म अगुवा छत्तीसगढ़

धान के समर्थन मुूल्य म अगुवा छत्तीसगढ़

29-Jul-2019

भुपेस सरकार ह धान के समर्थन मृल्य म पुरा देस म अगुवा हे। छत्तीसगढ़ म धान प्रति  किवट्ल 2500 रू समर्थन मूल्य म धान खरीदे जात हे । जो पुरा देस म सबले ज्यादा हे। कोनों राज म इकर ले ज्यादा नई ये । प्रति किवट्ल 2500 रू मिले से किसान म   के भाग जाग गे ।  ऊंकर जीवन म खुसहाली आगें ।  किसान  किसानी बर बड़ चींंता फीकर म रहए, वो चींता फीकर अब नइए । अब  किसान के मन म विस्वास अउ किसानी बर मया उमड़गे ।

                                      अब किसान के मन लगा के किसानी करें बर आगु आवत हे । पहिली किसान मन अपन जमीन ला बंजर रख दै,अब समर्थन मुल्य बाडे से ज्यादा ले ज्यादा पैदावार बर अपन जम्मो जमीन म किसानी करत हे। येकर से किसान सम्पन्न होही अउ गांव के  आथि्रक स्थिती म बड़ सुधान होही ।

दाल-भात संग भाजी के स्वाद लीन मुख्यमंत्री अउ वित्त आयोग के अध्यक्ष

दाल-भात संग भाजी के स्वाद लीन मुख्यमंत्री अउ वित्त आयोग के अध्यक्ष

29-Jul-2019

मुख्यमंत्री भुपेस बघेल वित्त आयोग के बईठका के बाद आयेांग के अघ्यक्ष श्री एन.के.सिंह ल मक्षनिया के खाना म आमंत्रित करिन् अउ अपन घर ले आए टिफीन ल साक्षा करें बर आग्रह करिन  । श्री सिंह ह मुख्यमंत्री के आग्रह ल मान के मुख्यमत्री  संग दुनो दाल-भात अउ भाजी  संग छत्तीसगढ़ी व्यजन  ल बड चाव ले खाईन । श्री सिंह ह छत्तीसगढ़ी व्यजंन के बहुत तारीप करिन।

वित्त आयोग केअध्यक्ष् अउ सदस्य छत्तीसगढ़ी भाखा अउ बोली म मोहीत होईन

वित्त आयोग केअध्यक्ष् अउ सदस्य छत्तीसगढ़ी भाखा अउ बोली म मोहीत होईन

29-Jul-2019

वित्त आयोेग के अध्यक्ष् अउ सदस्य बईटक के दोेरान मुख्यमंत्री  भुपेस बघेल ह आयोग के अध्यक्ष् श्री एन.के.सिहं अउ सदस्य मन ला छत्तीसगढ़ी भाखा अउ बोली के बारे म  जानकारी दिन । आयोग के अध्यक्ष् अउ सदस्य मन छत्तीसगढ़ी भाखा अउ बोली म मोहीत हो गें , गुरतुर बोली ्र मनमोहनी अउ बहुत मयारू भाखा हे कहीके बड़ तारीफ करीन ‌।

किसान हितैसी :बघेल

किसान हितैसी :बघेल

29-Jul-2019
मुख्यमंत्री बघेल किसान मन के आय दुगुना करे बर केन्द सरकार ला अपन राज्य के नरवा,गरूवा,घुरूवा,बारी योजना के बारे म बताईस अउ एकर से किसान मन के आमदनी दुगुना कईसे होही तेकर बारे म विस्तार ले बताइस । मु.बघेल कहिन की राज्य के अधिकासं जनसंख्या गांव म रहिथे ,अउ गांव के अर्थव्यस्था इही परम्परागंत काम ले सीधा जुरे हे, जंगल,छाड़ी,गउ,गरूवा खाद बीज ले जोन आमदनी होथे वो आमदनी ला बड़ाय बर परही।एकर बर किसान मन ला कृशी उत्पादन ला बड़ाय बर पड़ही। ऐकर से ग्रामीण अर्थव्यवस्था म नवा जान आ जही । अउ साथे-साथ पर्यावरण के सरंक्षण तको होही। गउ,गरूवा के सेवा जतन ले दुध के उत्पादन बाड़ही ,दुध अउ दुध ले बने उत्पाद के बजार म अब्बड़ मांग हे पहली तो दुध के ब्रीकी बहुत ज्यादा हे ग्राहक ज्यादा उत्पादन कम हे। दुध ले बने दही,मठा,घी,पनीर सब आजकल सब्बो आदमी के रोज उपयोग होए वाले जीनिस हे। जेन दिमाक अउ स्वास्थ बर अतिउत्तम माने गे हें। आज कल एकर मांग दिनों-दिन बाड़ गे हे। अब विदेस में तको बहुत बड़का बाजार हेंं। ये योजना अउ एकर ले लाभ के सम्बन्ध म जानकारी सबो गोठ बात ला प्ररधानमंत्री के आगु म निती आयोग म रखीन।अउ कहिन की ये योजना ह,पुरा देेेेस बर एक नवा रद्दा तैयार कर हीे।
पर्यावरण बर सुघर योजना

पर्यावरण बर सुघर योजना

29-Jul-2019
-पर्यावरण बर सुघर योजना छत्तीसगढ़ सासन ल नरवा,गरूवा,घुरूवा,बाड़ी के योजना ले पर्यावरण अउ विकास दुनो ल साधे के प्रयास करें गे हे अउ जमीनी स्तर म काम सरू हो गे हे। केमिकल खाद हमार जमीन ल खराब करत हे । जमीन के पैदावार ल नस्ट करते हे।अइेसने चलत रहि त जमीन हमर बन्जर हो जही। गरूवा के सरंक्षण अउ घुरूवा के निर्माण ले जमीन बाच जही। पसुधन के विकास होही। घुरूवा के संवर्धन ल गोबर खाद बनाऐ जाथें । किसान जेला बेच के पईसा कमा सकथें।अउ सहर डहार पलायन रूकही । सरकार के दुसरा प्रयास हे नदिया मन के सवारे के अभियान प्राणदायिनी नदि मन प्रदुशण के कारण सुखावत हे नदि नाला ला पाट के सहर बसत जात हे, सब्बोनाला मन ला जोड़ के नदी म मीला के उन्कर धारा ला सेाझ कर उन्कर पानी ल बहुउपयोगी बनाए जाए जेकर से पानी के स्तर कम मत होवय अउ पर्यावरण तको साफ रहाय।
मुख्यमंत्री के पहिली जन चैपाल

मुख्यमंत्री के पहिली जन चैपाल

29-Jul-2019
मुख्यमंत्री के पहिली जन चैपाल .............. मुख्यमंत्री भूपेस बघेल के लोगन मन से भेट मुलाकात करे के कार्यक्रम जन चैपाल के पहिली चैपाल म लोगन मन अपन अपन समस्या ला के मुख्यमंत्री के आगु रखिन अउ समस्या के समाधान ले के हासते हुए वापस गिन । जन चैपाल म परदेस भर के लोगन मन अपन-अपन दुख समस्या मुख्यमंत्री ला बताईन,कोनो सरकारी भर्ती मे गडबड़ी के आवेदन दिन,कोनो बांध नहर र्निमाण अउ कोनो स्वेच्छानुदान बर सहायता बर कोनों नरवा,गरूवा,घुरवा,बारी योेजना चलाय बर मुख्यमंत्री ला धन्यवाद दिन।अधिकारी कर्मचारी मं 7 वां वेतनमान लागु करीन ने कर बर आभार दीन । बस्तर बीजापुर ले आए मरीज मन ईलाज बर आवेदन दिन,मुूख्यमंत्री भूपेस बघेल ह संंंजीवनी कोस ले आर्थिक मद्रद बर स्वीकृती प्रदान कर दीन।महीला मन ला व्यापार चालु करें प्रोत्साहित करीन साथ आर्थिक सहयोग तको करीन । गुमास्ता लाइसेंस ल हर साल नवीनीकरण म छूट बर छत्तीसगढ़ चेम्बर आॅफ कांमर्स एंड इंडस्ट्र्ीज के अध्यक्ष संग पदाधिकारी मन मुख्यमंंत्री के आभार व्यक्त करिन । मुख्यमंत्री के जन चैपाल कार्यक्रम हर बुधवार के दिन रख्ंो जाही ।
धान छोड़ आने फसल बार समस्या

धान छोड़ आने फसल बार समस्या

29-Jul-2019
धान छोड़ आने फसल बर समस्या ....... छत्तीसगढ़ सरकार धान के समर्थन मुल्य 2500 रु प्रति क्विटंल कर के बाद खरीफ सीजन म कीसान मन सब्जी फांजी अउ दुसरा काहंी के खेेती करना बंद कर दीस अब बस धान बोए बर ज्यादा ध्यान देवत हे । एकर ले धान के रकबा बाड़ जाही । धान के रकबा बाडे से दुसर फसल के रकबा कम हो जाही, ऐकर से बाजार म दिक्कत बड़ जाहीे।काबर के धान समर्थन मुल्य बाड़ गे हे तकर सेती जम्मों किसान तिलहन दाल सब्जी अउ सोयाबीन सब छोड़ के धान फसल म पुरा ध्यान देवत हे। सरकार ले ऐकर से बहुत नुकसान होही,काबर के धान के उत्पादन ज्यादा होए ले सरकारी बजट बाड़ जाही।दुसर फसल छोड़ के धान ला उगाए के कारण ये हे के दुसर फसल के रेट तको ठीक नई ऐ उन्कर रखे बर कोल्ड स्टोरेज के व्यवस्था नऐ । जतका लागत कीसानी म आथे ओतका उत्पादन म नई मील सके, अउ सबसे बड़े समस्या धान के छोड बाकी फसल में समर्थन मुल्य म परता नई पड़य।
राज के 65 लाख परिवार ल मिलही सस्ता चाउर :बधेल

राज के 65 लाख परिवार ल मिलही सस्ता चाउर :बधेल

29-Jul-2019
राज्य के 65 लाख परिवार लं मिलही सस्ता चाउरःबघेल मुख्यमंत्री भूपेस बघेल ह छत्तीसगढ़ के 65 लंाख परिवार ल सस्ता चाउर दे बर घोशणा कर दे हे। जेमा सांलाना 1100 करोड़ रु के खर्च आही। राज के सब्बो परिवार बर नवा रासन कार्ड बने के प्रक्रिया सुरू हो गे हे। अभी 58 लंाख परिवार के रासन कार्ड बने हे, अब एपीएल परिवार ला भी ये योेजना के फायदा मीलही उकरो मन बर रासन कार्ड बनही अउ सस्ता चाउर मिलही।