एशियन फुटबाल चैंपियनशिप में किरण पिस्दा का चयन

एशियन फुटबाल चैंपियनशिप में किरण पिस्दा का चयन

04-Sep-2022
​​​​​​​मुख्यमंत्री ने किरण पिस्दा को दी बधाई और शुभकामनाएं   सुश्री पिस्दा का साउथ एशियन फुटबाल चैंपियनशिप के लिए हुआ भारतीय टीम में चयन    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सुश्री किरण पिस्दा को नेपाल में होने वाले साउथ एशियन फुटबाल चैंपियनशिप 2022 के लिए भारतीय टीम में चयनित होने पर बधाई और शुभकामनाएं दी है। सुश्री किरण पिस्दा भारतीय टीम की ओर से फॉरवर्ड पोजिशन में खेलेगी। भारत ग्रुप ए में है, जिसका पहला मैच पाकिस्तान के साथ होगा। खेल एवं युवा कल्याण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार सुश्री किरण पिस्दा बालोद जिले की रहने वाली है, वह स्वामी विवेकानन्द स्टेडियम रायपुर में खेल विभाग द्वारा संचालित बालिका फुटबॉल अकादमी में प्रशिक्षण प्राप्त कर रही थी। गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ में फुटबॉल अकादमी की शुरूआत वर्ष 2020 में की गई है। सुश्री किरण पिस्दा राष्ट्रीय फुटबॉल सीनियर टीम में चयनित होने वाली छत्तीसगढ़ की पहली खिलाड़ी है। खेल संचालनालय द्वारा अकादमी स्थापना के पूर्व भी विभागीय प्रशिक्षकों के माध्यम से लगातार खिलाड़ियों को नियमित प्रशिक्षण दिलाया जा रहा है, जिसमें बालोद की रहने वाली फुटबॉल खिलाड़ी किरण पिस्दा विगत 3 वर्षों से प्रशिक्षण ले रही थीं। विभागीय फुटबॉल प्रशिक्षक श्रीमती सरिता कुजूर टोप्पो के द्वारा किरण पिस्दा को नियमित प्रशिक्षण दिया गया है। खेल संचालनालय द्वारा विभिन्न खेलों की आवासीय और गैर आवासीय खेल अकादमियों की स्थापना की जा रही है, जिसमें छत्तीसगढ़ के स्थानीय खिलाड़ियों के खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिए निरंतर प्रयास किया जा रहा है।  खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा वर्तमान में बिलासपुर में खेलो इंडिया स्टेट सेंटर ऑफ एक्सीलेंस में हॉकी बालक एवं बालिका खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर के प्रशिक्षक के माध्यम से प्रशिक्षण दिया जा रहा है। यहां खिलाड़ियों को शासन द्वारा आवास, भोजन और पढ़ाई की सुविधा भी उपलब्ध कराई जा रही है। जल्द ही बिलासपुर में एथलेटिक और तीरंदाजी की आवासीय अकादमी में खिलाड़ियों का प्रशिक्षण प्रारंभ करने जा रही है। शिवतराई बिलासपुर में भी खेल विभाग तीरंदाजी प्रशिक्षण उपकेंद्र का संचालन किया जा रहा है। साथ ही बिलासपुर में आवासीय बालिका कबड्डी अकादमी और रायपुर में आवासीय तीरंदाजी अकादमी भी प्रारंभ किया जा रहा है, जिसके लिए खिलाड़ियों का चयन ट्रायल लिया जा चुका है।  उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ में लगातार खेल सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा रायपुर में गैर आवासीय हॉकी, तीरंदाजी, एथलेटिक एवं बालिका फुटबॉल अकादमी संचालित की जा रही है। इन खिलाड़ियों को प्रशिक्षण के साथ साथ डाइट मनी एवं स्पोर्ट्स किट आदि की सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही है। राज्य के सात जिलों में खेलो इंडिया लघु केंद्र स्वीकृत किए गए हैं। बिलासपुर और बीजापुर में तीरंदाजी, राजनांदगांव और जशपुर में हॉकी, सरगुजा में फुटबॉल, नारायणपुर में मलखंभ और गरियाबंद में व्हॉलीबाल की खेलो इंडिया लघु केंद्र प्रारंभ की जा रही है, जिसमें ग्रास रूट लेवल से खिलाड़ियों को प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध होगी

leave a comment