उद्यानिकी के असीमित संभावना वाले प्रदेश छत्तीसगढ़:- उद्यानिकी अउ वन विज्ञान

उद्यानिकी के असीमित संभावना वाले प्रदेश छत्तीसगढ़:- उद्यानिकी अउ वन विज्ञान

06-Jun-2021

उद्यानिकी के असीमित संभावना वाले प्रदेश छत्तीसगढ़:- उद्यानिकी अउ वन विज्ञान

 विश्वविद्यालय ले अच्छा खेती ल बढ़ावा मिलत हे।                           

   छत्तीसगढ़ के मौसम म विविधता के सति इहा के उद्यानिकी फसल मन के उत्पादन के असीमित संभावना हे। एला मूर्त रूप दे बर मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल अउ कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे ह दुरुग जिला के साकरा पाटन म 2 अक्टूबर के महात्मा गांधी उद्यानिकी विश्वविद्यालय के स्थापना करे हे। ए राज्य के पहिली उद्यानिकी महाविद्यालय हरय , जिहा शिक्षा उद्यानिकी छेत्र म अनुसंधान अउ प्रशिक्षण ले जुड़े के काम होही। एकर राज्य म उद्यानिकी फसल मन ल बढ़ावा मिलहि।                                    प्रदेश म उद्यानिकी फसल मन के खेती के जगह म बीते कुछ बछर मन म चार गुना जादा के बढ़ोतरी होए हे। उत्पादन ह पाहिली के तुलना म बाढ़ के पांच गुना होगे हे। छत्तीसगढ़ राज्य म बोए जाने वाला परमुख फल अउ फसल हे आमा, जाम, नीमउ, लीची , काजू, अखरोट अउ चीकू हे। ए परमुख फसल के अलावा छिताफल, बेल, बोइर , आंवला के भी उत्पादन होथे। राज्य म बछर 2019-20 म फल फसल मन के कुल छेत्रफल 2 लाख 58 हजार 6300 हेक्टेयर अउ उत्पादन 25 लाख 48 हजार 930मीट्रिक टन हे। साग- भाजी ज्यादातर साग- भाजी मन के फसल जइसे सोलानेसी फसल, कुकुर्बीट्स, बीन्स , गोभी, फूलगोभी राज म अच्छा से बोए जाथे। राज्य म बछर 2019-20 म साग- भाजी के फसल के कुल छेत्र 5 लाख 25 हजार 147 हेक्टेयर अउ उत्पादन 71 लाख 58 हजार 909 मीट्रिक टन हे। मसाला- मिरचा, अदरक, लसुन , हरदी , धनिया अउ मेथी राज्य म बोए जाने वाला परमुख फसल हरय।  मसाला के कुल छेत्रफल 55 हजार 376 हेक्टेयर अउ मसाला उत्पादन 3 लाख 54 हजार 525 मीट्रिक टन हे।                     

        छत्तीसगढ़ फूल के खेती के छेत्र म बहुत साधारन हे। राज्य म फूल के बढ़त हुए मांग ल पूरा करे बर किसान मन के बीच वारीजयिक फूल मन के खेती ल बढ़ावा देना जरूरी हे।मैरीगोल्ड , ट्यूबोरोज, ग्लैडीओलस, रोज, गैलेर्डिया, क्रिसमस, आर्किड । जइसे परमुख फूल बहुत सावधानी ले अच्छा तरह बोए जाथे।राज्य म फूल मन के खेती के रकबा 13 हजार 493 हेक्टेयर अउ उत्पादन 76 हजार 219 मीट्रिक टन हे। राज्य म सुगंधित अउ जरी- बूटी फसल मन म अशवगंधा, सर्पगंधा, सतवार, बुच, आंवला, तीखुर अउ सुगंधित फसल मन म लेमनग्रास, पामारोजा, जमारोजा , पचौली, ई- सिट्रीडोरा सामिल हे। सुगंधित अउ जरी-बूटी फसल मन के रकबा 8 हजार 957 हेक्टेयर अउ उत्पादन 59 हजार 172 मीट्रिक टन हे।


leave a comment