छत्तीसगढ़ के पढ़ई तुंहर दुआर ल मिलिस ई-गवर्नेंस अवार्ड

छत्तीसगढ़ के पढ़ई तुंहर दुआर ल मिलिस ई-गवर्नेंस अवार्ड

06-Jun-2021

छत्तीसगढ़ के पढ़ई तुंहर दुआर ल मिलिस ई-गवर्नेंस अवार्ड                         

मुख्यमंतरी अउ स्कूल शिक्छा मंतरी दिस बधई                                        

कोरोना महामारी अउ लॉकडाउन के चलत स्कूल के लइका मन ल घर बइठे ऑनलाइन पढ़ई लिखई के सुविधा 'पढ़ई तुंहर दुआर' के तहत उपलब्ध कराय गिस। छत्तिसगढ़ के ये कारयकरम ल रास्टीय स्तर म परसंसा करे गिस, अउ येला रास्टीय स्तर म ई-गवर्नेंस अवार्ड घलो मिलिस। ये अवार्ड उत्तरप्रदेश के मुख्यमंतरी योगी आदित्यनाथ के उपस्थिति म उत्तरप्रदेश के राज मंतरी स्टाम्प अउ न्यायालय फीस, पंजीयन रविन्द्र जायसवाल के हाथ म परदान करे गिस। छत्तीसगढ़ के तरफ ले संचालक लोक सिक्छन अउ प्रबंध संचालक समग्र सिक्छा जितेंद्र शुक्ला, सहायक संचालक समग्र सिक्छा डॉ. एम. सुधीस अउ एनआईसी के बिग्यानिक ललिता वर्मा ह ये इनाम ला ग्रहण करिन। छत्तिसगढ़ सासन स्कूल सिक्छा बिभाग के महत्वपूरन उपलब्धि म मुख्यमंतरी भूपेश बघेल अउ स्कूल सिक्छा मंतरी डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ह बिभाग के परमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला अउ पूरा टीम ल बधई दिस। 
                                       मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ये इनाम ल छत्तीसगढ़ी के जम्मो सक्रिय सिक्छक मन ल समरपित करिन। जउन मन एक उत्कृस्ट कोरोना वारियर के रूप म अपन महत्वपूरन भुमिका निभाय हे। 
धियान दे के बात हे कि छत्तिसगढ़ के मुख्यमंतरी भूपेश बघेल अउ स्कूल सिक्छा मंतरी डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम दवारा ' पढई तुंहर दुआर' कारयकरम के सुरुवात 7 अप्रैल 2020 के करिन। छत्तिसगढ़ म 20 मार्च 2020 ले स्कूल म लॉकडाउन के घोसना होत ही ये कारयकरम ल जल्दी तइयार करके पूरा परिक्छन करिन। येला स्कूल सिक्क्षा बिभाग के परमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ह कोविड लॉकडाउन के चलत कार्यालय बन्द होय के स्थिति म अपन निवास म एनआईसी अउ बिभाग के टीम के संग बहुत कम पइसा म बिना कोनो बाहर के एजेंसी ले मदद लेय बिना तइयार करिन।                                               
                                     पढ़ई तुंहर दुआर वेबसाइड म बहुत ही कम समय म सिक्छक मन ल अउ लइका मन ल जोडिन। ये कारयकरम के अलग-अलग घटक मन के प्रचार- प्रसार बर राज के निचला स्तर तक मीडिया सेल ल जोडिन। नोडल अधिकारी, सिक्छ्गक अउ पढ़इया लिखइया लइका मन ये वेबसाइट के उपयोग बर प्रेरित करिस। अभी के स्थिति म वेबसाइड म 25.97 लाख लइका अउ 2.07 लाख सिक्छक जुड़े हे।                                         
'पढ़ई तुंहर दुआर' के वेबसाइट म कछावर अउ विसयवार अब्बड़ अकन सिखे म सहायक सामग्री अपलोड करे गेय हे। ये सामग्री राज्य के सिक्छक ह अपन खुद तइयार करके अपलोड करे हे। कोरोना के चलत सिक्छक पढ़ाय के ये तरीका ल बहुत जल्दी सिख गेय। रोज ऑनलाइन कक्छा ल चलाना, घर म लिखे के काम देना, गिरिह कार्य के जांच करके लइका मन ल जानकारी देना। लइका के संका ल पूछ के ओकर समाधान करे गिस, हर लइका के आकलन के बाद रिकार्ड रखे गिस। सब्बो पाठ्यपुस्तक के पीडीएफ डाउनलोड करें जइसे बहुत अकन सुविधा ये वेबसाइड म देय गिस।  
                                     छत्तिसगढ़ म ऑनलाइन के अलावा ऑफलाइन सिक्छा म घलो बहुत नवाचार सिक्छक मन करे हे। ये कड़ी म मुहल्ला म कक्छा के आयोजन, लाउड स्पिकर के माध्यम ले सिक्छा, बुल्टू के बोल, मिस्ड कॉल गुरुजी जइसे अनेक नवाचार सिक्छक मन बिना कोनो सासकीय आदेश के लइका मन ल अलग-अलग वैकल्पिक साधन के माध्यम ले पढाइस।


leave a comment