महतारी भाखा ह आत्मबिस्वास् देथे : भूपेश

महतारी भाखा ह आत्मबिस्वास् देथे : भूपेश

15-May-2021
महतारी भाखा ह आत्मबिस्वास् देथे : भूपेश महतारी भाखा म प्राथमिक सिक्षा बर नींव प्रोजेक्ट -महतारी भाखा म प्राथमिक सिक्षा अब्बड़ जरुरी हे। इंही बात ल ध्यान म रख के छत्तीसगढ़ सरकार नींव प्रोजेक्ट सुरुआत करे हे। ये गोठ बात मुख्यमंतरी भूपेश बघेल ह भिलाई के वैशाली नगर उच्च माध्यमिक साला म आयोजित नींव अउ भाखा पिटारा कार्यक्रम म कहिन। आगु कि जब पढ़हइया लइका मन आथे त वो मन अपन संग महतारी भाखा ल लेके आथे। अउ लइका ल एकदम ले दूसर भाखा म सिखाय जाथे। जेन ल हर लइका मन समझ नई पाय। हमर लइका मन के सुरुआती सिक्षा म कोनो तरह के रुकावट मत आय येकर सेती नींव प्रोजेक्ट के सुरुआत करे गेय हे। येकर माध्यम ले अब लइका मन ल अपन महतारी भाखा छत्तीसगढ़ी सिखाय जात हवय। ये पढ़ई के संग-संग सोच बिचार के तरीका ल घलो बिकसित करे जात हे। जेकर ले लइका मन के कल्पना सक्ति बाढ़हि अउ कोनो बिसय ल अच्छा ले समझ सकहि। अउ आत्मबिस्वास ले अपन बात ल घलो राख सकहि। मुख्यमंतरी बताइस कि थोड़िक देर पहिली पढहइया लइका मन ल भौरा के कहिनी बतात रहेव। एक लइका ल पूछेव कि ये का चीज हरय। उत्तर म लट्टू कहिस। जब मैं कहेव कि भौरा हरय त लइका आत्मबिस्वास ले कहिस कि लट्टू हरय। भूपेश कहिन कि लइका ह अपन महतारी भाखा म लट्टू के रूप म सीखे हवय। लोगन मन ल महतारी भाखा ह आत्मबिस्वास देथे। येकरे सेती लइका अपन बात ल दमदारी ले राखिस। भूपेश बघेल कहिन कि महात्मा गांधी घलो महतारी भाखा म सिक्षा ल महत्त्व देत रहिन। उंही ल हमन अपनात हवन। येकर ले पढ़इया लइका मन के समझ अउ भाखा के गियान के बिकास जल्दी होथे। मुख्यमंतरी कहिन कि ये खुसी के बात हरय कि नींव प्रोजेक्ट बर कहिनी अउ सामग्री हमर सिक्सक मन तइयार करे हे। सिक्षा के गुणवत्ता ल बढ़ाय बर ब्लैक बोर्ड टू के योजना चलाय जात हे। बिज्ञान अउ गनित के सिक्षक के कमी ल पूरा करे बर पहल करे हन। अउ कला बिषय के पद रिक्त होय के बाद सिक्षक भर्ती करे जाहि। येकर संग सिक्षक मन ल प्रोत्साहित करे के दिसा म घलो काम करे जात हे। भूपेश बघेल कहिन कि बिचार ल ब्यक्त करे बर भासा के जरुरत पड़थे। येकरे सेती भासा के बिकास जरूरी हे। ये नवा तरीका ले पढ़ई बर सरकार के अब्बड़ जोर हवय। लइका मन अपन महतारी भाखा म संवाद अउ उत्तर दे सकहि त ओखर बिकास तेजी ले होहि। येकर संग सरकार लइका मन के पोसन ऊपर धियान देवत हंवय। भूपेश बघेल कहिन कि सिक्षा ल अच्छा बनाय के जिम्मेदारी हम सब के हरय। येमा पालक अउ सामाजिक संगठन घलो योगदान दे सकत हे। गुनवत्ता सिक्षा के माध्यम ले गढ़बो नवा छत्तीसगढ़ के लक्ष्य पूरा होहि।

leave a comment